Breaking News
Home / खेती-बाड़ी / बेरोजगारों के लिए बड़ी खबड़, अब हर महीना कर सकते है 1 लाख रुपये की कमाई- जाने पूरी प्रक्रिया

बेरोजगारों के लिए बड़ी खबड़, अब हर महीना कर सकते है 1 लाख रुपये की कमाई- जाने पूरी प्रक्रिया

अगर आप अच्छी कमाई करना चाहते हैं तो आज हम आपको एक बात बताने जा रहे हैं, जिसमें आप घर बैठे बिना किसी टेंशन से ज्यादा कमाई कर सकते हैं। आपको बता दें कि अगर आप कृषि के क्षेत्र में एक छोटा सा व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो यह योजना आपके लिए विशेष रूप से उपयोगी हो सकती है।

आप पोल्ट्री फार्मिंग का विकल्प चुन सकते हैं जबकि सरकार ने इसके लिए भी मदद शुरू कर दी है। सामान्य तौर पर यह कारोबार 5 से 9 लाख रुपये में शुरू किया जा सकता है। अगर आप 1500 मुर्गियों के साथ छोटे पैमाने पर यानी लेयर फार्मिंग शुरू करना चाहते हैं, तो आप इससे 50 हजार से 1 लाख रुपये प्रति माह कमा सकते हैं।

इतना ही नहीं इस तकनीक की मदद से आप आसानी से रोजाना 3000 रुपये से ज्यादा कमा सकते हैं। लेकिन उससे पहले आपको मुर्गी पालन के लिए अच्छी जगह ढूंढनी होगी। इसके बाद आपको पिंजरों और उपकरणों पर करीब 5 से 6 लाख रुपये खर्च करने होंगे।
समझें कि अगर आपको 1500 मुर्गियों के लक्ष्य के साथ काम करना है तो आपको 10 प्रतिशत अधिक मुर्गियां खरीदनी होंगी। अंडे प्राप्त कर आप इस व्यवसाय से अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। क्योंकि वर्तमान में अंडे के दाम बढ़ गए हैं। जबकि वन लेयर पैरेंट बर्थ की कीमत करीब 30 से 35 रुपये है।

अब उन्हें पालने के लिए तरह-तरह के खाद्य पदार्थ खिलाने पड़ते हैं और दवा पर भी खर्च करना पड़ता है। बताया जाता है कि लगातार 20 हफ्ते तक मुर्गियों को खिलाने का खर्चा करीब 1 से 1.5 लाख रुपये आता है। एक परत मूल पक्षी एक वर्ष में लगभग 300 अंडे देता है। 20 सप्ताह के बाद मुर्गियाँ अंडे देना शुरू कर देती हैं और एक वर्ष तक अंडे देती हैं।

20 हफ्ते के बाद उनके खाने-पीने की कीमत करीब 3 से 4 लाख रुपये के आसपास होती है। ऐसी स्थिति में हर साल 1500 मुर्गियों में से औसतन 4,35,000 अंडे दिए जाते हैं। इसमें से आप 4 लाख अंडे बेच सकते हैं.जबकि एक अंडा 5 से 7 रुपये के थोक भाव में बिकता है.
अंडे बेचकर आप एक साल में अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं वहीं पोल्ट्री फार्म बिजनेस लोन पर सब्सिडी करीब 25 फीसदी है. इस व्यवसाय को करने से पहले आपको अधिक जानकारी भी प्राप्त करनी चाहिए।

डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Ek Bharat अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.

About Ek Bharat

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!